11
Share




@dawriter

मैं तुम और ये आवारगी ।

0 46       

सुनो…..

जिन्दगी में अगर कभी बिछड़ना हो तो,

एक काम करना बस जरा सा तुम मेरा मान करना।

मुझसे कभी किश्तो मे मत बिछड़ना जब,

मैं मुकम्मल नींद मे चला जाऊँ तब,

तुम मुकम्मल तौर पर बिछड़ जाना,

बस ज़िन्दगी में इतना तुम अहसान कर जाना।

:-

चन्द्र प्रताप सिंह

Image Source : tinybuddha



Vote Add to library

COMMENT