0
Share




@dawriter

बारिश

0 8       
arn by  
Arun Gaud

इस बारिश मे भीग ले जरा

आँखो मे मोती सींच ले जरा

ये हसी वक्त फिर आये ना आये

इस पल को जीभर के जी ले जरा

इस बारिश मे भीग ले जरा।



Vote Add to library

COMMENT