0
Share




@dawriter

दिल का हाल शायरी की जुबान

0 74       

 

 

हालात-ए-कल्ब़  क्या  कहूँ

राज-ए-उल्फ़त किससे कहूँ

तनहाईयों में घूम रहे हैं अब

महफिल-ए-दर्द किससे कहूँ!!

#रश्मि



Vote Add to library

COMMENT