SHAYARI

FILTERS


LANGUAGE

अंत्येष्टि

nis1985   84 views   10 months ago

भावनाये गर शून्य हो जाये, उनकी अंत्येष्टि कर देना श्रेष्ठ है......

मन और बुद्धि

utkrishtshukla   39 views   1 year ago

मन और बुद्धि में अंतर चिंतन​ द्वारा सम्भव हो​ सकता है।

जख्म

gauravji   33 views   10 months ago

" जहर" जैसा भी हो जख्म पर मलते रहना

सच

soni   28 views   11 months ago

फिसलते पाँव अक्सर झूठ की जमीन पर मिले हैं,

चल आज कुछ किस्से लिखते है ।

chandrasingh   33 views   11 months ago

तेरे हर एक लम्हे के खातिर, अपनी जिन्दगानी लिखते हैं ॥

पेड़

utkrishtshukla   48 views   1 year ago

मनुष्य निरंतर उन चीजों का ही विनाश करता जा रहा है, जिनसे उसके जीवन का वजूद है।

इतवार

neerajself   39 views   7 months ago

ये वक़्त भी बेवक्त मुझे कुछ यूँ सताता है...

“ अगर तुम चाहो तो ”

ankitg   78 views   8 months ago

प्रस्तुत कविता में मैंने अपनी प्रेयसी को एक उर्जात्मक रूप में दिखाने कि कोशिश की है, एक कवि अपनी कविता (प्रेयसी) के सूक्ष्म वियोग में जब कुछ रचनायें लिखता है, उस दर्द को मह्सूस कर लिखने का प्रयास किया है...

चाँद थी वो

neerajself   48 views   11 months ago

I tried to answer of 'who was she?'this way 'chand thi wo'

लोगों को बदलते देखा है मैंने

aksha   265 views   1 year ago

It is not a composition but my own experience

सहर

utkrishtshukla   44 views   1 year ago

कई बार हम जल्दबाजी में गलत फ़ैसले ले लेते हैं।

पैमाने के दायरों में रहना... (नज़्म) #ज़हन

Mohit Trendster   73 views   1 year ago

पैमाने के दायरों में रहना, छलक जाओ तो फिर ना कहना… साँसों की धुंध का लालच सबको, पाप है इस दौर में हक़ के लिए लड़ना… अपनी शर्तों पर कहीं लहलहा ज़रूर लोगे, फ़िर किसी गोदाम में सड़ना…

नहीं मुझे यह शहर चाहियें

Nidhi Bansal   143 views   7 months ago

मै गाँव में पली बढी हूँ और पिछले 11सालों से शहर में अपना घर बना कर रह रही हूँ। किन्तु गाँव और शहर के परिवेश मे बहुत फर्क महसूस करती हूँ। बस इन्ही भावनाओं को वयक्त करने की कोशिश है।जरूरी नहीं की सभी मेरे विचारों से सहमत हों।

इच्छा

Nidhi Bansal   92 views   8 months ago

मनुष्य का 'कभी ना खत्म होने वाली 'इच्छाओ का सिलसिला,उसके जीवन को नरक बना देता है।

अनुभव

utkrishtshukla   103 views   1 year ago

अनुभव इंसान की जिंदगी को आसान बनाने में ख़ास भूमिका निभाते है।