SHAYARI

FILTERS


LANGUAGE

लोगों को बदलते देखा है मैंने

aksha   383 views   2 years ago

It is not a composition but my own experience

सहर

utkrishtshukla   54 views   2 years ago

कई बार हम जल्दबाजी में गलत फ़ैसले ले लेते हैं।

अनुभव

utkrishtshukla   137 views   2 years ago

अनुभव इंसान की जिंदगी को आसान बनाने में ख़ास भूमिका निभाते है।

गुलाब

utkrishtshukla   93 views   2 years ago

सदियों से इज़हार-ए-इश्क और मुहब्बत की दुनिया में गुलाब ने अपना वर्चस्व कायम रखा है।

अंधी दौड़

utkrishtshukla   87 views   2 years ago

आज व्यक्ति पैसे व भौतिक ऐश्वर्य की चीजों के पीछे अंधाधुंध दौड़ रहा है। वह पैसे की चमक में अपनों को भी नहीं पहचान पा रहा है।

कोई होता

poojaomdhoundiyal   26 views   2 years ago

कभी किसी और का आपमें विश्वास रखना आपकी जिंदगी की बुझती हुई लौ को फिर से रौशन कर देता है। क्या आपको भी तलाश है ऐसे किसी अपने की!?

पेड़

utkrishtshukla   71 views   2 years ago

मनुष्य निरंतर उन चीजों का ही विनाश करता जा रहा है, जिनसे उसके जीवन का वजूद है।

शोर

poojaomdhoundiyal   45 views   2 years ago

किसी के दिल की आवाज़ दूसरे तक पहुँच ही नहीं रही है। हर किसी को एक ख़ामोशी ने घेरा हुआ है। इतना की उसकी चीख किसी भी और तरह के शोर की आवाज़ को दबा दे रही है। ख़ामोशी और अकेलेपन के बदल गरज कर हर शोर को दबा दे रहे है।

शब्द

poojaomdhoundiyal   42 views   2 years ago

किसी के शब्द नयी उमंग से भर देते हैं तो किसी के आत्मा को तोड़ देते हैं। किसी ने सही ही कहा है ’ऐसी बानी बोलिये मन का आपा खोय, औरन को शीतल करे आपहु शीतल होय ‘।

मन और बुद्धि

utkrishtshukla   68 views   2 years ago

मन और बुद्धि में अंतर चिंतन​ द्वारा सम्भव हो​ सकता है।

आंसू

utkrishtshukla   34 views   2 years ago

बहता आंसू बेवजह तो नहीं... .........

सागर के किनारे

kavita   282 views   1 year ago

सागर के किनारों सी तटस्थ, और एकल जिंदगी की एक अधूरी प्रेम कहानी....

अधूरी सी मन्नत

aksha   46 views   1 year ago

Sometimes i want to live my childhood again so that i can find my brother... 😞

मुंतजिर

utkrishtshukla   49 views   2 years ago

इंतज़ार करना हर शख्श के लिए आसान नहीं ......

जिंदगी का फलसफा

nis1985   698 views   2 years ago

धुआँ धुआँ सा है जहाँ, रौशनी बहुत कम है.....