12
Share




@dawriter

खुशी-आँसू,एक सिक्के के दो पहलू

1 12       
aksha by  
Aksha

 

लोग कहते हैं रहना हो खुश,
तो आँखों से आँसू नहीं छलकाने चाहिए,
पर मैं कहती हूँ,खुश रहने के लिए,
कभी-कभी मन हल्का कर लेना चाहिए।
खुशी और आँसू,हैं दोनों ही एक सिक्के के दो पहलू
कभी सुख का आना,
कभी गम का जाना,
ये आना-जाना यूँ हीं चलते रहना चाहिए।
जिस दिन थम गया ये आना-जाना, 
समझ लेना उस दिन मर गये हो तुम,

कौन कहता है,मरने के लिए केवल मौत का आना होना चाहिए।

मैं कहती हूँ खुश रहने के लिए,मन हल्का कर लेना चाहिए।।



Vote Add to library

COMMENT