0
Share




@dawriter

खुश रहना डोना

0 2       
Soma Sur by  
Soma Sur

कल डोना  को देखा, पहले की तरह हँसती मुसकुराती । बहुत अच्छा लगा। थोड़े दिन पहले जब मै उससे मिली थी ,तब  न तो उसके होठो पर हँसी थी न तो कोई  रौनक । आइए, पहले आपसे डोना का परिचय करवा दूँ।  ६ साल पहले की बात है जब हम इस नये शहर मे आये , डोना कि family  से हमे हमारे किसी परिचित ने मिलवाया था और डोना परिचय करवाया था,"  She is very talented girl . She is in class 5th . Got 1st position in every  class. She is super dancer , singer and artist . she got gold medals in every drawing competitions , singing and dance competitions.  साथ मे उसकी मॉ  ने उसके कुछ और achievement के बारे मे बताया । जैसे कितने gold medals , shields है और उन्हे इन सबको रखने को लिये एक नया show case बनवाना है । क्योकि मेरा बेटा भी 5th मे ही था , तो उन्होने उसके achievements जानने चाहे। drawing !मेरे बेटे को लिये curved line खिचना ही एक achievement थी । हॉ  singing का उसको शौक था पर हम उससे पहले एक छोटे शहर मे रहते थे जहॉ हम चाह कर भी उसे कुछ सिखा नही सके । ये सब सुनकर वो बहुत disappoint हुये और मुझे अच्छा खासा lecture भी दिया । आजकल extra curricular activities बहुत जरूरी है । हमारी बेटी तो jewel है।इसकी मॉ  तो सारा दिन इसके पिछे ही लगी रहती है।

मैने जानना चाहा कि इतनी छोटी लड़की इतना सब कैसे manage करती है । उसकी मॉ  ने मुझे बताया हम तो time management करते है , school से आने के बाद उसके classes divided होते है । शाम को 4बजे से 8बजे तक । फिर घर पर आकर school की studies। सच बताँऊ,  एक बार तो मुझे feel हुआ कि क्या मै इतनी अच्छी मॉ नही हूँ ?

उसके बाद हम जब भी मिलते तो डोना  के gold medals और prizes की list भी बढ़ती जा रही थी। फिर हमारे बच्चे 9th class मे आ गये । डोना का selection एक नामी  coaching center मे हो गया । और शुरू हुई उससे और ज्यादा बेहतर करने की  उम्मीद । monthly test मे कितनी position आयी इससे measure होता था उसका IQ  , और engineering college मे  admission के chances । बुरी तरीके से पिस रही थी वो छोटी सी बच्ची, मॉ - बाप और टीचरो की उम्मीदों के बीच । अब हमेशा उसके सिर मे दर्द रहता था। पढ़ नही पाती थी। depressed थी। एक दिन उसने अपनी सारी किताबें फाड़ दी । उसके parents उसे counselor के पास ले गये । counselor कि सलाह पर अभी उसकी studies बिलकुल बन्द हैं । इस बार वो board exams नही देगी । लोग उससे  पुछते है तो उसकी मॉ उससे पहले ही normally कह देती हैं डोना इस बार exam नही देगी।  और उस समय उसके चेहरे की चमक और बढ़ जाती है । लोग पीठ पीछे कहते है देखो exam नही दे पी रही फिर भी कितनी खुश लगती है। पर डोना,  मुझे पता है कि तुम खुश हो क्योकि तुम्हारे parents अब तुम्हारे साथ है, उन्हे तुम्हारे marks से अब कोई मतलब नही । तुमसे वो कितना प्यार करते है ये  उन्होने साबित कर दिया। तुम हमेशा हँसती, मुसकुराती रहो । जीवन मे आगे बढ़ो । हमारी शुभकामनाये हमेशा तुमहारे साथ हैं ।



Vote Add to library

COMMENT