YOUR STORY

FILTERS


LANGUAGE

दीदी_की_शादी

mrinal   42 views   1 year ago

१०वीं का रिजल्ट निकले हफ्ता बीत चुका था किंतु घर में फैला सन्नाटा अभी भी बाकी था। ऐसा लग रहा था कि जैसे किसी की मौत हो गयी हो। रवि जिसके बारे में सब आशा कर रहे थे कि ९०% अंक लायेगा, वह फेल हो चुका था।

रीयूनियन

abhi92dutta   75 views   1 year ago

बचपन के चार दोस्त । पंद्रह साल बाद “रीयूनियन” का प्लान ।

प्रेम वाला खाना

mmb   1.27K views   7 months ago

पत्नी और मां के हाथों से बनाये खाने में प्रेम और वात्सल्य भरपूर होता है।

जान

mrinal   265 views   11 months ago

इंटरव्यू के अंतिम चरण में चयन न होने पर हताश और क्रुद्ध आशुतोष कमरे पर पहुंचते ही पत्नी पर बरस पड़ा।

ताई

mmb   459 views   7 months ago

ताई का रुतबा आखिर समाप्त हो गया। उसका स्थान उसकी बहू ने ली।

તારી વાર્તા મારું જીવન

ashutosh   23 views   6 months ago

ગુજરાતી શીખવવાનો આગ્રહ રાખતા પિતા પુત્રી ની વાર્તા

कुछ ऐसे अहसास जिसे सिर्फ महसूस किया जा सकता..

Kalpana Jain   817 views   5 months ago

मैने एक प्यारी सी बेटी को जन्म दिया। जब मुझे इस बात का पता चला तो मेरी खुशी का तो ठिकाना ही नहीं था।

पल ..

abhi92dutta   490 views   5 months ago

जो व्यक्ति सबसे अधिक हँसता है, वह अपने अंदर सबसे अधिक दुःख को समेटे रहता है

सुकून वाली चाय की प्याली

kavita   404 views   5 months ago

एक स्त्री का जीवन ,और व्यस्त जीवन शैली में उसका अपना वक्त कुछ दिल की बातें ..!

व्यापार वर्धक यंत्र

kumarg   76 views   10 months ago

इस बरसात में लकड़ियों के खरीदार मिल रहे हैं । पहले तो मुझे लग रहा था श्मशानघाट पर दुकान खोलकर गलती कर दी। लेकिन भला हो उन पंडितजी का अब तो धंधा चौचक हो रहा है पिछले दो घंटे में बारिश के बावजूद लोग घाट की दुकानें छोड़कर मेरे पास आ रहे हैं । "

यादें

mmb   908 views   8 months ago

उम्र के अंतिम पड़ाव में जीवन की यादें उमड़ घुमड़ कर आती हैं।

मर्यादा

poojaagnihotry   783 views   5 months ago

मर्यादा के नाम पर प्राणों की बलि

सच है दुनिया वालों की हम हैं "अनाड़ी"

Kalpana Jain   1.41K views   5 months ago

अब रोशनी को कौन समझाये की जेठानी सब की नजरों में काम करती नजर आ रही है और तुम बेकार।

बड़े बड़े लोग

Rajeev Pundir   1.12K views   7 months ago

निम्न मध्य श्रेणी के लोग संपन्न लोगों के बारे में क्या सोचते हैं, पढ़िए एक ऐसे ही इंसान की खिन्नता को दर्शाती इस कहानी में।

कौन हो तुम?

udyalkarai   62 views   1 year ago

जवाब एक स्त्री का समाज के उन लोगों को जो बस उसे दबाना चाहते हैं।