SHAYARI

FILTERS


LANGUAGE

निष्ठुर

rajesh1720   27 views   2 years ago

परिवार मे हमसे बेहद करीब पर कठोर , डर और डाँट का दूसरा नाम , पर आज बहुत याद आता है वो शख्स ।

कोई होता

poojaomdhoundiyal   26 views   2 years ago

कभी किसी और का आपमें विश्वास रखना आपकी जिंदगी की बुझती हुई लौ को फिर से रौशन कर देता है। क्या आपको भी तलाश है ऐसे किसी अपने की!?

वो बात

neerajself   26 views   1 year ago

इन बातों में वो बात नहीं...........

एक गज़ल

rashmi   26 views   1 year ago

अपने जीवनसाथी के लिए दिल से की गई प्रार्थना

ओ गणपति महाराज

nis1985   25 views   1 year ago

ओ गणपति महाराज विनती सुन लो आज अकिंचन सी मैं खड़ी आज तेरे द्वार

डर लगता है

poojaomdhoundiyal   25 views   1 year ago

हम भले ही कह ले की आज हर कोई अकेला है लेकिन ये भी सच है कि कहीं न कहीं वो अपने अंदर एक डर भी समेटे हुए है।

जिन्दा है आज भी वो मुझमें जैसे कहीं।

chandrasingh   24 views   1 year ago

जिन्दा है आज भी वो मुझमें जैसे कहीं ॥

"लिख दूँ"!!!

ayushjain   24 views   2 years ago

"सोचता हूँ लिख दूँ खुद को दिल खोल कर फिर सोचता हूँ रहने दूँ......

Prostitution

mitikaarora   24 views   2 years ago

Prostitution isn't about selling a 'girls' body, rather its a barter of her helplessness and his dignity.

सज़ा

neerajself   24 views   1 year ago

ये बात सही है कि कभी दिल में रहे हो तुम...

ख्याल क्यों है.....!

chandrasingh   23 views   2 years ago

मै बोला गर करता हो, बेवफाई तो मेरे लिये ये ख्याल क्यों है.?

Shayari

sonikedia12   22 views   2 years ago

किसी ने सुलगाया किसी ने हवा दी ।

"ख़्वाहिश"!!!

ayushjain   22 views   1 year ago

एक ख़्वाहिश सिर्फ़ एक ख़्वाहिश ही थी वो भी पूरी ना हुई

પહોંચી ગયો

spujara19   20 views   1 year ago

એક ગુજરાતી ગઝલ આપણી સમક્ષ રજુ કરું છું

होता

sonikedia12   20 views   1 year ago

रदीफ़ - तो होता कहा जो दिल का किया तो होता मेरा जहाँ भी तेरा तो होता