SHAYARI

FILTERS


LANGUAGE

एक बार

sonikedia12   7 views   6 months ago

जिंदगी मैं तेरी सहर में ना सही ..

कोई होता

poojaomdhoundiyal   18 views   6 months ago

कभी किसी और का आपमें विश्वास रखना आपकी जिंदगी की बुझती हुई लौ को फिर से रौशन कर देता है। क्या आपको भी तलाश है ऐसे किसी अपने की!?

ये मेरा दर्द घटा दे कोई...

sehyun221   10 views   7 months ago

एक ग़ज़ल जो काफी वक़्त पहले कही गयी थू, पेश कर रहा हूँ... उम्मीद है सब को पसंद आएगी.

अंधी दौड़

utkrishtshukla   44 views   7 months ago

आज व्यक्ति पैसे व भौतिक ऐश्वर्य की चीजों के पीछे अंधाधुंध दौड़ रहा है। वह पैसे की चमक में अपनों को भी नहीं पहचान पा रहा है।

मन और बुद्धि

utkrishtshukla   20 views   7 months ago

मन और बुद्धि में अंतर चिंतन​ द्वारा सम्भव हो​ सकता है।

बेईमान मौसम

chandrasingh   56 views   7 months ago

मौसमों ने मिल के साजिशें रच रहे थे, उस शरमाती हुई को, बेशरम कर रहा थे !!

Shayari

sonikedia12   14 views   7 months ago

किसी ने सुलगाया किसी ने हवा दी ।

मेरे पास -Shayari

sonikedia12   36 views   7 months ago

तुम रहते हो मेरे पास मैंने देखा है कई बार ..

ख्याल क्यों है.....!

chandrasingh   9 views   7 months ago

मै बोला गर करता हो, बेवफाई तो मेरे लिये ये ख्याल क्यों है.?

बंद किताबें

joshimukesh1010   19 views   7 months ago

कुछ गुलाब जो किताबों में बंद पड़े हैं....

पेड़

utkrishtshukla   31 views   7 months ago

मनुष्य निरंतर उन चीजों का ही विनाश करता जा रहा है, जिनसे उसके जीवन का वजूद है।

इश्क की बातें

sonikedia12   21 views   7 months ago

सुनोगे जब भी तुम इश्क की बातें नाम मेरा याद आ जाएगा

वजूद

jhalak   10 views   7 months ago

किसी​ के वजूद का अपमान करना दिल तोड़ने से ज्यादा बड़ा अपराध है

आंसू

utkrishtshukla   23 views   7 months ago

बहता आंसू बेवजह तो नहीं... .........

शब्द

poojaomdhoundiyal   18 views   7 months ago

किसी के शब्द नयी उमंग से भर देते हैं तो किसी के आत्मा को तोड़ देते हैं। किसी ने सही ही कहा है ’ऐसी बानी बोलिये मन का आपा खोय, औरन को शीतल करे आपहु शीतल होय ‘।