SHAYARI

FILTERS


LANGUAGE

दिल का हाल शायरी की जुबान

rashmi   55 views   9 months ago

कल्ब़ यानि दिल के हाला़त को शायरी में कहने की कोशिश की है

कांच हु अभी....

nis1985   56 views   8 months ago

कांच हूँ अभी,खुद को तराशना है बाकी, जब आइना बन जाऊं,तब दुनिया देखेगी......

Life

sonikedia12   15 views   9 months ago

ठोकर सिर्फ पत्थरों से नहीं लगती

ये मेरा दर्द घटा दे कोई...

sehyun221   14 views   10 months ago

एक ग़ज़ल जो काफी वक़्त पहले कही गयी थू, पेश कर रहा हूँ... उम्मीद है सब को पसंद आएगी.

मेला

utkrishtshukla   47 views   6 months ago

मेले में मां बाप से बिछड़ने का दर्द सिर्फ वही जानता है जो कभी बिछड़ा हो....

बेईमान मौसम

chandrasingh   70 views   10 months ago

मौसमों ने मिल के साजिशें रच रहे थे, उस शरमाती हुई को, बेशरम कर रहा थे !!

“ अगर तुम चाहो तो ”

ankitg   53 views   4 months ago

प्रस्तुत कविता में मैंने अपनी प्रेयसी को एक उर्जात्मक रूप में दिखाने कि कोशिश की है, एक कवि अपनी कविता (प्रेयसी) के सूक्ष्म वियोग में जब कुछ रचनायें लिखता है, उस दर्द को मह्सूस कर लिखने का प्रयास किया है...

रूह से रूह जुड़ी थी

ritumishra20   35 views   5 months ago

कभी उसके ही दम से रौशन जिंदगी थी हर कदम इश्क की खुश्बू सी उड़ी थी

पैमाने के दायरों में रहना... (नज़्म) #ज़हन

Mohit Trendster   64 views   9 months ago

पैमाने के दायरों में रहना, छलक जाओ तो फिर ना कहना… साँसों की धुंध का लालच सबको, पाप है इस दौर में हक़ के लिए लड़ना… अपनी शर्तों पर कहीं लहलहा ज़रूर लोगे, फ़िर किसी गोदाम में सड़ना…

साथी

mmb   107 views   5 months ago

साथी का महत्व बार बार याद आता है चेहरा साथी का साथी के चले जाने के बाद।

सवाल

neerajself   17 views   2 months ago

वक़्त का ये तजुर्बा भी कमाल ही है ना।

मैं तुम और ये आवारगी ।

chandrasingh   39 views   7 months ago

जिन्दगी में अगर कभी बिछड़ना हो तो, एक काम करना बस जरा सा तुम मेरा मान करना। मुझसे कभी किश्तो मे मत बिछड़ना जब, मैं मुकम्मल नींद मे चला जाऊँ तब, तुम मुकम्मल तौर पर बिछड़ जाना, बस ज़िन्दगी में इतना तुम अहसान कर जाना।

जो नहीं है, वह खूबसूरत है...

sehyun221   34 views   7 months ago

An inspirational article on daily life issues. A strong message to those people who are worried about their future and all that.

बस यूं ही

chandrasingh   12 views   7 months ago

अगर बन जाता घरौंदे ख्वाबों से, तो इतनी शिद्दत से चिड़िया तिनका-तिनका न सजोती।

रहनुमा अक्स (नज़्म)

Mohit Trendster   22 views   2 months ago

जब किसी के अक्स में दुनिया बसने लगे...कीमत और दायरों के परे कुछ...उस रूहानी एहसास का हाल!