RELATIONSHIP

FILTERS


LANGUAGE

पुनर्जीवन

Pallavi Vinod   472 views   7 months ago

18 साल तक वैधव्य का दर्द सहने के बाद जीवन को पुनः जीने का सफर है पुनर्जीवन।

शर्म किस बात की

varmangarhwal   1.40K views   11 months ago

एक जवाँन लड़की और एक जवाँन लड़का सारी रात एक–दूसरे के साथ इंजॉय करके सुबह कपड़े पहनने के बाद गले मिलकर एक–दूसरे को किस करते हैं.

तेरे प्यार के बही-खाते...(नज़्म)

Mohit Trendster   17 views   1 year ago

अटूट रिश्ते की उधड़ी डोर से बनी नज़्म...

सौतन

kumarg   179 views   1 year ago

अपने आप से लडती जरीना मानों चीख पडी " क्यूं तेरी अम्मी ने नहीं सुनाई कहानियां । " उसके जबाब ने दिल चीर दिया " नहीं अम्मी तो पैदा होते ही छोड़ गई थी , रुखसती के वक्त अब्बू ने कहाथा जा वहाँ तुझे सबकुछ मिलेगा जिसके तुने ख्वाब देखे हैं । "

मै तुझ में जिन्दा हूँ

uma   794 views   5 months ago

❤️एक धड़कते दिल की कहानी....💖 प्यार कभी मरता नहीं💖

एक छोटी सी कोशिश बेटी के मन की बात कहने की

soni   50 views   1 year ago

लोग कहते है कहीं कुछ छुटा तो नहीं अब उन्हें कौन समझाए कुछ नहीं सबकुछ तो छुट गया नैहर में...

मैं जैसी हूँ मुझे वैसा रहने दो

poojaomdhoundiyal   2.54K views   10 months ago

वर्तिका जब नयी नवेली दुल्हन बन अपने नए घर आई तो हर नयी दुल्हन की तरह उसके भी कुछ अरमान थे। शुरू शुरु के कुछ दिन तो हँसी खुशी से बीते। नयी गृहस्थी ऐसी लग रही थी मानो उसे सब मिल गया हो। पर धीरे धीरे जैसे जैसे गृहस्थी की गाड़ी आगे बड़ी तो वास्तविकता की जमीन पर पैर पड़ा।

यादों की डायरी

chandrasingh   98 views   1 year ago

कहते हैं ना की, जिन्दगी को हम जितना सुलझाना चाहते हैं। वो हमें उतना ही उलझाती है। ज़िन्दगी को अपनी जिन्दगी में सुलझना बहुत कठिन है। इस लिये हमे कोशिश भी नहीं करनी चाहिए। वो जैसी चल रही हैं हमें उसे वैसे ही चलने देना चाहिए।

माँ ‌आप क्यों छोड़ ‌गई???

Anonymous
  121 views   1 year ago

माँ ‌‌के‌‌‌‌ ‌बिना‌‌ ‌‌जीवन में ‌एक ‌अधूरापन ‌स‌ा है।

हैप्पी वैलेंटाइन डे

abhidha   67 views   1 year ago

गरीबों के लिए मोहब्बत इतनी आसान नहीं होती।आज कल तो प्यार करने से पहले लोग स्टेटस मैच करते हैं।

पगफेरा

nidhi510   328 views   1 year ago

अपनी बेटी को आर्थिक मानसिक व सामाजिक स्थिरता प्रदान करने के लिए एक माँ के संघर्ष की कहानी जहाँ दमाद सामाजिक मान्यताओं को तोड़ निभाता है बेटे होने का फर्ज ।

रीत के ससुराल की रीत

nehabhardwaj123   1.85K views   1 year ago

ये कहानी है रीत की जिसे ससुराल में जाकर काफी कुछ नया सीखने को मिला

माँ की पराई बेटी !!

nehabhardwaj123   2.34K views   1 year ago

ये कहानी है सुजाता जी की जिनकी बेटी ने आपमे जीवन के कड़वे अनुभवों से सीख लेते हुए अपनी माँ को एक अच्छी सास बनने के लिए प्रेरित किया

दीवाली और वो ख्वाब

ritumishra20   105 views   1 year ago

रूहानी और सच्चे प्रेम की एेसी कहानी जहां उम्र की कोई सीमा नहीं है लेकिन सामाजिक मूल्यों को स्वीकारती ये प्रेम कहानी केवल एक एहसास और ख्वाब बन के रह जाती है

मेरी वो दुनिया

gauravji   476 views   1 year ago

आज तुम मुझे इस मझधार में अकेला छोड़ कर खुद किनारे लगने की कोशिश कर रहे हो ना रवि, पर याद रखना जब तुम किनारे लगोगे ना तो इन सपनों की टूटी हुई काँच तुम्हारे पैरों में जरूर चुभेगी और तुम तब भी मुझे ही मेरे दुपट्टे से तुम्हारी जख्मों को पोछते हुए देखोगे