161
Share




@dawriter

मुझे इतना पढ़ने की ज़रूरत ही क्या थी?

0 1.28K       

कितने साल की है?

साल? 6 महीने की है?

अक्षरा ने दुहराया केवल 6 महीने

आप बैठिये मैं आती हूँ। मन ही मन सोचते हुए "कैसी माँ है? इतने छोटे बच्चे को यहाँ कौन छोड़ता है भला, बच्चे को माँ की ज़रूरत सबसे ज़्यादा होती है। हद है।

अक्षरा ने कमरे में खेल रहे बच्चों को ऐपल दिए, झूलों की तरफ तस्सली की, और वापस आ गई

अक्षरा ने बच्ची को गोद में लेते हुए बच्ची की माँ से कहा "बहुत प्यारी है। "

"अपने पापा पर गयी है मेरा तो कुछ लिया ही नहीं उन्ही के पास ज्यादा भी रहती है" बच्ची की माँ ने हल्का सा मुस्कुराते हुए कहा। उसकी निगाहें दरवाज़े पर टिकी थीं।

"पापा बहुत प्यार करते हैं अपनी परी को" अक्षरा ने बच्चे के गाल चूम लिए।

आप बच्चों से बहुत प्यार करती हैं, ना?

जी बिल्कुल। बच्चे होते ही है प्यारे, मेरी ज़िन्दगी तो इन्ही से है.

आप बच्चों को बहुत बेहतर सँभालना जानती हैं। अक्षरा हल्का-सा मुस्कुरा दी।

तजुर्बा सब सिखा देता है बेबी का नाम क्या है?

अकीरा।

अकीरा, सुंदर , क्रेच चलाने के कारण बच्चों को प्यार देना और देखभाल करना वैसे तो मेरा काम है पर फिर भी हम पेरेंट्स को अपनी तरफ से हमेशा सही सलाह ज़रूर देते है इसलिए मैं कहना चाहती हूँ

अक्षरा ने कुर्सी पे बैठते हुए कहा.

"मैं जानती हूँ आप क्या कहेंगी, यही न कि अकीरा बहुत छोटी है और मुझे उसे क्रेच में नहीं छोड़ना चाहिए?"

जी,

देखिये, मैं एक वर्किंग वुमन हूँ। सुबह घर से निकलती हूँ तो घर आते-आते रात हो जाती है। ऐसे में बहुत मुश्किल हो जाता है एक बच्चे को भी सँभालना। मुझे बड़ी मुश्किलों के बाद वापस जॉब मिली है जिसे मैं किसी भी क़ीमत पर नहीं छोड़ सकती। अपना कैरियर खराब नही कर सकती.

आप के हसबैंड क्या करते हैं?

जी, वो सरकारी नौकरी में हैं।

फिर जॉब क्यों?, कोई दिक्कत?

क्यों दिक्कत हो तभी क्या औरत को काम करना चाहिए, इतना पढ़ने के बाद घर पर ख़ाली बैठना अच्छा नहीं लगता। मेरी माँ भी हाउस-वाइफ़ थीं और मैं जानती हूँ कि हाउस-वाइफ़ को कोई नहीं पूछता जीवन भर, एक एक पैसे की लडा़ई होती है।

उसने काफी जोश में सब कुछ कहा,

आप सिर्फ़ इसलिए जॉब करती हैं क्योंकि आपको दुनिया को दिखाना है कि आप पति के भरोसे नहीं है.

मतलब क्या है आपका ?

अकीरा उठ गयी और रोने लगी। अक्षरा से पहले उसकी माँ ने उसे गोद में ले लिया.

ऐसा क्यों लगता है आपको कि आप घर पर कुछ नहीं करती? आप हाउस-वाइफ़ नहीं, आप होम-मेकर हैं। क्या आप जानती हैं कि एक औरत ही एक 'अच्छे इंसान' का निर्माण करती है। आप अपनी माँ के बारे में सोचिये, क्या आप भी यही मानती हैं कि आपकी माँ ने ज़िन्दगी में कुछ नहीं किया? ज़िन्दगी में सिर्फ़ वही करना चाहिये जो आप को पसंद हो, ना कि ये देखकर कि बाक़ी दुनिया क्या करती है। अगर जॉब करना आप का पैशन है, तो ही करिये। स्टेटस सिंबल के लिए नहीं।"

मतलब? मैं एक आदमी पर डिपेंड रहूँ?

उस औरत के अंदर की फेमिनिस्ट जाग गई। महिला सशक्तिकरण का ज्वालामुखी फटने वाला था.

देखिये कोई किसी पर निर्भर नही है सभी अपने जीवन को जीने के लिए अपना काम करते है क्या आपके पति आपको सम्मान नहीं देते क्या हमेशा अहसास दिलाते है पैसो का,

नहीं वो हमेशा मुझे बहुत रिस्पेक्ट देते हैं पर यदि मै जाँब नही करुंगी तो मुझे इतना पढ़ने की ज़रूरत ही क्या थी? सब बेकार हो जायेगा?

पढाई आपको काबिल बनाती है और ये काबिलियत जब आपको ज़रूरत पड़ेगी आपके काम ज़रूर आएगी अक्षरा ने मुस्कुराकर कहा.

अच्छा, यदि ऐसा ही है तो आप यहाँ क्यों करती हैं जॉब?

अक्षरा जानती थी अगला सवाल यही होगा ।

"बच्चे मेरे लिए सब कुछ हैं इसलिए बच्चों के साथ समय बिताना बहुत पसंद हैं। उनके बिना मैं नहीं रह सकती, अभी अकीरा बहुत छोटी है यदि घर पे कोई बडा़ रह सकता है तो वो सबसे अच्छी बात होगी नहीं तो कम से कम स्कूल जाने का इंतजार किजिए" अक्षरा ने झूले पर बैठे बच्चों को देख कर कहा.

आपकी शादी हो गई?, बच्चे हैं?

नहीं, मुझे शादी में दिलचस्पी नहीं है, अक्षरा ने धीरे से कहा

इसलिए आप जॉब कर पा रही है

मैंने दूसरी शादी नहीं की और कर भी नही सकती थी.

दूसरी शादी?

पहली शादी हुई दो बार माँ बनी, पर पतिदेव और परिवार को लड़का चाहिए था, इसलिए दोनो बार कोख में ही मेरी बच्चियो को मार दिया गया, एक साल में दो बार एबार्शन, फिर माँ बनी पर इस बार बेटा था पर शयाद मुझमे जान नही थी, आठवे महीने में गिर गई, वो बच्चा भी....

...डाक्टर ने कह दिया कि मैं अब कभी माँ नही बन सकती थी, फिर बांझ को कौन रखता है.

एक गहरा सन्नाटा था

कमरे में तभी दरवाज़ा खुला और अकीरा के पिता ने प्रवेश किया "मैं आख़िरी बार कह रहा हूँ, अकीरा को ज़रूरत है तुम्हारी, जब वो पाँच साल की हो जाये तब भी तुम जॉब कर सकती हो" उस व्यक्ति ने कहा

अक्षरा जी मुझे resignation letter देने ऑफिस जाना है, क्या तब तक आप मेरी अकीरा का ख्याल रखेंगी?



Vote Add to library

COMMENT