shashank25

0

Most recent posts

एक_इश्क_ऐसा_भी

"वहाँ सरहद पर गोलियाँ चलती हैं चाय नहीं।और वैसे भी हम फ़ौजियों को लेट नाइट चैटिंग करने की छूट नहीं होती।"

पापा तुम्हारे नाम एक खत

पापा आप जानते हो मम्मी सुबेरे से चुप हो गयी है, कुछ खायी नई, कुछ बोलती नई । दिन भर आपको फोन करती रही आप फोन उठाये नई तो रोने लगी और आज तो टीवी में सिरियल की जगह न्यूज देखती रही । दादी भी चुप चाप बाहर वाले बरामदे में बैठी है जहाँ आपकी वो फ़ौजी ड्रेस वाली फोटो टंगी है ।

Some info about shashank25

EDIT PROFILE
E-mail
FullName
PHONE
BIRTHDAY
GENDER
INTERESTED IN
ABOUT ME