LIFE

FILTERS


LANGUAGE

शान्ति

mmb   233 views   5 months ago

अपने स्वार्थ के लिए पढ़ी लिखी लड़की को पागल बना दिया

"सुम्मी की माँ.."

kavita   438 views   5 months ago

एक अबोध बच्ची की माँ को खो देने की और उसके... संघर्ष की कहानी..!!

नियति

dks343   130 views   5 months ago

story of a poor family ,who could not save the life of their beloved sons inspite of there great efforts,they did all what they could do. बाहर लकदक टेंट लगे थे। नसबन्दी जैसे जुमले का हुस्न शबाब पर था। उसी शामियाने के पीछे उस गंदी इमारत पर तहरीर लिखी थी, ‘‘तत्काल लाभ, तुरंत भुगतान।

IS IT FAIR ?

ayushi212   19 views   5 months ago

Life is an adventure with mixed experiences . It is neither always fair nor unfair . And the times it is unfair, one must not lose hope as something good does come out of the unfair experiences .

स्वप्न संगिनी

shivamtiwari   1 views   5 months ago

एक बाल मन की महत्वाकांछाएँ व सपने किस प्रकार से उम्र का रास्ता अकेलेपन के साये में तय करते-करते प्रेम के 'ढाई अक्षर' में विलीन होने को मचलने लगती है उसी अनुभूति को कविता में पिरोने की एक कोशिश।

A lucky Number ( love on a phone call)

shubh244   212 views   5 months ago

This story is about a boy who was lonely. A day before a Valentine's day, a girl called him and said " hello.! I dialed a lucky No. ?" Boy talked rudely. He realized his mistake soon and apologized her. Now they talk for hours and boy is in love with her. They decided to meet but boy never met.

खत: अजन्मे बच्चे के नाम

kavita   61 views   5 months ago

एक माँ की संवेदना भरी बातें ...जो वो अपने जिगर के टुकड़े से बोलना चाहती है..!

" ब्लू व्हेल :- मौत की सौदागर "

Neha Neh   68 views   5 months ago

आत्महत्या करनें वालों के पास सबसे ज्यादा अपनों की कमी होती है। उस अपने की जिससे वो दिल की बात कह सके। कोशिश किजिये अगर किसी अपने के व्यवहार में अचानक से परिवर्तन आया है। तो आप उसके दिल की बात जान सके। यकीन माने आत्महत्या बहुत कम हो सकती है ,पर एक दोस्त एक हमदर्द अगर साथ हो तो ......

If I would be someone else !

mehrashanti   14 views   5 months ago

One fine morn , eyes peep into the mirror and she gets lost in a world , virtual yet which kept her spellbound and where all her torment was lost. But then she greets her own persona and then is compelled to ponder what if she would be someone ?

Headless man on the wall…

nischay   32 views   5 months ago

There is an old saying, “In the time of peace war-men attack themselves”, and hence remains no peace.

दधीचि

kumarg   182 views   5 months ago

जमाने से उलट बेटी को कान्वेंट में डाला और बेटे को सरकारी स्कूल में। पत्नी ने आपत्ति की तो उसको समझाया दोनों कान्वेंट में पढ़े इतनी हमारी हैसियत नहीं है और बेटे का क्या है नहीं भी पढ़ेगा तो मजदूरी करके जी लेगा। बेटी जात है समय को देखते हुए उसका पढ़ा लिखा होना जरुरी है।

Assumed Alive

troubleseeker11   37 views   6 months ago

This poem is about any oerson who is assumed alive but he/she is dead insided. This is a little dark. So enter at your own risk.

मोर्चा

sidd2812   143 views   6 months ago

रात एक बजे उस माँ को क्या सूझी कि कश्मीर में सोते अपने बेटे को जगा दिया। उस माँ को किसी अनहोनी की आशंका थी, जैसे कुछ बुरा होने वाला है

झुलसी दुआ (कहानी) #ज़हन

Mohit Trendster   140 views   6 months ago

उसकी दिनभर की थकान नींद से कम बल्कि घरवालों से घंटे-आधा घंटे बातें कर ज़्यादा ख़त्म होती थी। अक्सर उसने कितने लोगो को कैसे बचाया, कैसे बीमारी में भी स्टेशन आने वालो में सबसे पहला वो था, कैसे घायल पीड़ित के परिजन उस से लिपट गए...

विकिपीडिया और बिकाऊ मीडिया के पार की दुनिया

Mohit Trendster   64 views   6 months ago

हरीश शांत स्वर में मेघना को समझाने लगे - “चिंता मत कर मेघू बेटे! ऐसे करियर बर्बाद होने लगते तो मैं कबका एक्टिंग छोड़ चुका होता। तेरा वीडियो मैंने देखा है। एक पार्सल भेजा है तुझे, बाकी फ़ोन पर नहीं समझाऊंगा। अपने मैनेजर और टीम को बुला ले उन्हें समझा दिया है, उनकी बात ध्यान से सुनकर वैसा ही करना… ”