0
Share




@dawriter

लगता है

0 1       

#लगता है#
दुनिया के लिये तू होगा जहर,
हमको तो बड़ा मासूम मगर लगता है।
कहीं खो जायें ना नाजुक सा दिल
हमकों तो ये डर लगता है।
तेरे संग कट जाते है,दिन भी कुछ पलों में
तेरे बिना जिदंगी का बड़ा लम्बा सफर लगता है।
तू है तो खुशियों की रोशनी नसीब है हमकों
तू नहीं तो हर पल गम का सहर लगता है
तेरा हाथ थाम कर कभी ख्वाबो का घर बसाया
अब तू जो नहीं तो ये घर उजड़ा सा शहर लगता है।
यादों को तेरी सांसो में कैद करने की ख्वाहिश थी
करे क्या अब तो हमें सांस लेने से भी डर लगता है।
नियामत समझ खुदा की तुझे
हम खुश थे बहोत
लग गई खुशी को हमारी
जमाने की नजर,लगता है।



Vote Add to library

COMMENT