INSPIRATIONAL

A Fearless Girl...

khyati   17 views   7 months ago

It is a small write up on a girl who is brave, who has fought to carve a niche for herself. this is exemplary and praiseworthy.

पापा के नाम एक और चिट्टठी

dhirajjha123   38 views   7 months ago

पापा आपके लिए चिट्ठी है, कितने दिनों से नही लिखी थी ना । पढ़िएगा ज़रूर और आशीर्वाद दीजिएगा अपने नालायक बेटे को ।

अच्छी माँ बन जाऊं

dhirajjha123   3 views   7 months ago

एक पिता जब माँ बनता है तब एक पुरुष अपनी विपरीत दिशा में चलता है

​क्या तुम जानते हो

dhirajjha123   3 views   8 months ago

क्या तुम जानते हो गुलामी किसको कहते हैं ?

भीड़ के अलग अलग चेहरे

dhirajjha123   5 views   8 months ago

“हाँ हाँ महराज जाइए ना हम कहाँ रोक रहे हैं । मगर एक बात कह दें आप जईसा लोक सब के चलते देस पिछड़ा है । लालच है ना जो वो देस की जनता के मन से जब तक नहीं जाएगा देस का भला संभब नहीं है महराज ।”

याद रहे कोई भी धर्म या नफ़रत इंसान की ज़िंदगी से बड़ा नहीं

dhirajjha123   2 views   8 months ago

सुना है अलवर में गौतस्कर बता कर एक पशु व्यापारी की हत्या कर दी गई । कुछ लोग खुश हैं कि गौ वध करने वालों की संख्या से एक कम हुआ, कुछ लोगों के लिए ये शर्मनाक हादसा है ।

​लाश हो जाना ही अच्छा है

dhirajjha123   9 views   8 months ago

मरघट में धू धू कर जलती लाशें जलते हुए भी मुस्कुरा रही थीं जाते जाते ज़िंदा लोगों को उनके मरे होने का अहसास करा रही थीं

बेचारा नहीं हूँ

dhirajjha123   1 views   8 months ago

मैं कोई आवारा नहीं हूँ तरस मत खाओ मुझ पर

Suicide

akshay khodpatil   11 views   8 months ago

For that guys who do suicide because of one girl left.

रंगीन लिबास

abhidha   96 views   8 months ago

विक्रम हॉस्पिटल से अपने फ्लैट पर लौट आया।खाना खाने का मन नहीं था, चुपचाप रेडियो चलाया और बिस्तर पर लेट गया। रेडियो पर गाना बज रहा था- 'मैं कहीं कवी न बन जाऊँ तेरे प्यार में ऐ कविता' अबकी बार विक्रम ने अपने कान बंद कर लिए थे।।

श श श... सो रहा है देश मेरा

abhidha   33 views   8 months ago

अब लिखने वाले की जात मत पूछना चुपचाप सो जाओ सब.... श...श..श... सो रहा है देश मेरा कृपया हॉर्न तो बिलकुल ही न बजाएं।।

Unworthy

Maria Anderson   10 views   8 months ago

Physical abuse isn't the only abuse. Just because my eyes aren't black and blue. Or my arm isn't broken in two. Words hurt too. A story of finding yourself after an emotionally abusive marriage.