INSPIRATIONAL

FILTERS


LANGUAGE

पगली

mmb   917 views   3 months ago

कैंसर से जूझती पत्नी को पति के प्यार का सहारा

The girl who looks up at the stars and wish...

khyati   855 views   11 months ago

Each person created by the Almighty has a distinct destiny. Some get pleasures while others are subjected to challenges and problems. This story will tell you what it takes to overcome your hardships and emerge victoriously.

अगले जनम मोहे बिटिया ही दीजो

Pallavi Vinod   787 views   4 months ago

ये कहानी है संयोगिता की, जिसका जन्म घर की तीसरी बेटी के रूप में हुआ,जो जीवन भर तरसती रही पापा के प्यार के लिए, उसके लिए उसके पापा की खुशी से बढ़कर कुछ भी नहीं था।

पर्फेक्ट मैरिज मटेरियल

Maneesha Gautam   765 views   5 months ago

कैसी लड़की चाहिए भाई?बस यार सुंदर हो,  माता-पिता की सेवा करे,

ईमानदार

mmb   756 views   4 months ago

एक गरीब उसूलों पर चलने वाले ईमानदार विद्यार्थी की कहानी

निश्चय

kavita   653 views   7 months ago

बाल विवाह की कुप्रथा से मुक्त होते एक निम्नवर्गीय परिवार की कथा

"गुड्डू"

shivamtiwari   610 views   7 months ago

कहानी एक ऐसे लड़के की जो अपनी खामियों को अपनी मजबूती बनाना चाहता है।

दो लक्ष्मीयों के बाद कुबेर तो आते ही है.

Maneesha Gautam   609 views   7 months ago

आज हम लोग शरद के घर गए थे चौक की पूजा में, सब लोग वहाँ बहुत खुश थे।

प्रतीक्षा उस दिन की

Manju Singh   564 views   5 months ago

देश की आज़ादी के इतने साल बाद भी औरत इस देश अपनी आज़ादी की प्रतीक्षा कर रही है ।

एक 'सलाम' ऐसी सोच को !

Kalpana Jain   487 views   5 months ago

ये कोई जरुरी तो नही जिन लोगों का नाम अखबार की सुर्खियों में हो, या जिन लोगों को कोई सम्मान मिला हो केवल उन्हीं लोगों को सलाम करना चाहिए, कभी कभी हमें ऐसे लोग भी मिल जाते है जिनकी कोई चर्चा नहीं होती परंतु वो जो काम करते हैं, उन्हें देख -सुन मन कहता है सलाम एेसी सोच को

सही फैसला

Kanupriya Gupta   431 views   8 months ago

रिश्तों की कश्मकश को एक नया आयाम देती कहानी जो औरत को अपने पैरों पर खड़े होने और रिश्तो को लेकर लिए गए सही फैसले से जुड़ी हुई है

दहलीज का अंतर

kavita   313 views   9 months ago

एक बेटी के बहू बन जाने, का अंतर ..समाज के लोगों के बीच फैला स्त्री के लक्ष्मी स्वरूप का वास्तविक रूप प्रस्तुत करता लेख

रंगीन लिबास

abhidha   309 views   1 year ago

विक्रम हॉस्पिटल से अपने फ्लैट पर लौट आया।खाना खाने का मन नहीं था, चुपचाप रेडियो चलाया और बिस्तर पर लेट गया। रेडियो पर गाना बज रहा था- 'मैं कहीं कवी न बन जाऊँ तेरे प्यार में ऐ कविता' अबकी बार विक्रम ने अपने कान बंद कर लिए थे।।

चलने का नाम ज़िन्दगी

suryaa   305 views   11 months ago

मुहब्बत में धोखा ख़ाने के बाद दुनिया से लड़कर सफ़ल होने वाली एक लड़की के सफ़र को दर्शाती हुई कहानी

ललक

kumarg   289 views   9 months ago

नाक सिकोड़ते हुए बोली "ठीक है कल से कापी पेंसिल लेकर आ जाना। " बड़े ने प्रतिवाद किया "उसमें बहुत खर्चा है ऐसे ही आप जो बोर्ड पर लिखेंगी वही पढ़ लेगा। ज्यादा नहीं पढ़ना है हिसाब बाड़ी लायक पढ़ जाए बस। "