INSPIRATIONAL

FILTERS


LANGUAGE

કાળા ના ધોળા

pravinakadkia   104 views   2 months ago

પૈસા કમાવા માટે ખોટો રસ્તો ન અપનાવવો એ સમજાવતી એક વાર્તા.

कभी नीम नीम कभी शहद शहद...माँ का जायका

Maneesha Gautam   166 views   2 months ago

हर इंसान का स्वाद सामने वाले इंसान के हिसाब से ,परिस्थिति के अनुसार अलग अलग होता है।

कामवाली बाई के साथ ATM फ्री।

Maneesha Gautam   897 views   2 months ago

मेरी बेटी जाँब करना चाहती है या नही ये मेरी बेटी का निणर्य होगा। जितनी दिन रात की मेहनत एक लड़का इस मुकाम तक पहुँचने के लिए करता है उतनी ही मेरी बेटी ने भी की है. जितनी प्रथानाऐ लड़के के माता पिता ने की है उतनी ही श्रद्धा से हमने भी ऊपर वाले के सामने हाथ जोड़े हैं। कि हमारे बच्चे को सफल करे।

सही फैसला

Kanupriya Gupta   382 views   2 months ago

रिश्तों की कश्मकश को एक नया आयाम देती कहानी जो औरत को अपने पैरों पर खड़े होने और रिश्तो को लेकर लिए गए सही फैसले से जुड़ी हुई है

Equality

shalini   22 views   2 months ago

This is about the voice of girls.. What society thinks of girls and really they feel

ललक

kumarg   275 views   3 months ago

नाक सिकोड़ते हुए बोली "ठीक है कल से कापी पेंसिल लेकर आ जाना। " बड़े ने प्रतिवाद किया "उसमें बहुत खर्चा है ऐसे ही आप जो बोर्ड पर लिखेंगी वही पढ़ लेगा। ज्यादा नहीं पढ़ना है हिसाब बाड़ी लायक पढ़ जाए बस। "

अस्तित्व : women struggle after marriage

kavita   269 views   3 months ago

एक स्त्री के विवाहोपरांत आत्म सम्मान से जुड़े संघर्ष की कहानी और उसमे जीवन साथी की भूमिका

दहलीज का अंतर

kavita   272 views   3 months ago

एक बेटी के बहू बन जाने, का अंतर ..समाज के लोगों के बीच फैला स्त्री के लक्ष्मी स्वरूप का वास्तविक रूप प्रस्तुत करता लेख

फैसला

abhi92dutta   121 views   3 months ago

इंसान और कुत्ते की दोस्ती को सलाम। क्या था वो फैसला

" एक उलझी सी पहेली "

Neha Neh   164 views   3 months ago

एक खूबसूरत सी कहानी जो जरूर आपको कुछ सीखा कर जायेगी।

चुभन

suneel   79 views   3 months ago

आदतन हिकारत से उठी शारदा की नजरें उस महिला के कपड़ो पर गयी। अलग अलग कतरनों को गाँठ बाँध कर बनायी गयी उसकी साड़ी उसके युवा शरीर को ढँकने का असफल प्रयास कर रही थी।

मर्दानी

suneel   193 views   3 months ago

अपनी आरामगाह में धारदार हथियार के प्रवेश से दोनों लड़कियाँ सुन्न थी। पहली लड़की की आँखों में जहाँ डर नजर आ रहा था दूसरी ने शांत होकर अपना सिर गर्भ की दीवार पर टिका दिया।

कर्म का सिद्धांत - Theory of Karma

divyak79   121 views   4 months ago

जन्म के साथ हर जीव सिर्फ कर्म ले कर आया है और मृत्यु के समय कर्म ले कर जाएगा, धन - दौलत - शोहरत सब यही धरा रह जायेगा, बस जाएगी तो सिर्फ दो अटैची - एक काली और एक सफेद...

नया सवेरा

ritumishra20   219 views   4 months ago

हर किसी के जीवन में हर रोज़ एक सवेरा होता है लेकिन एक सवेरा एेसा आया नीलू के जीवन में जिसने उसे उम्मीद की एक नई किरण ही नहीं दी बल्कि उसके बाद उसने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा

माँ मुझे आना है .....

nehabhardwaj123   20 views   4 months ago

एक अजन्मी बच्ची की भावनाएं , जिसे एक लड़की होने के कारण जन्म नहीं लेने दिया गया ....।